Wednesday, January 23, 2008

मैं तहसील के नजदीक बैंक ऑफ इंडिया के पास खड़ा हूं। बैंक वाले मेरा खाता नहीं खोल रहे। बीस मिनिट में खाता खोला गया - फोन इन का असर

कलेक्टर श्री राघवेन्द्र कुमार सिंह द्वारा आम नागरिकों की तकलीफों को जानने, समझने और उनकी शिकायतों का निराकरण करने के तरीके '' फोन इन '' का असर यह है कि इससे अनेक समस्याएं त्वरित गति से निराकृत की जा रही हैं वहीं प्राप्त शिकायतों को सुलझाना अधिक आसान हुआ है। आज मंगलवार 22 जनवरी 08 को चौतीस व्यक्तियों ने टोल फ्री फोन 1051 पर कलेक्टर से मुखातिब होकर अपनी समस्या / शिकायत दर्ज कराई जिनमें से अनेक समस्याओं का त्वरित निदान किया गया।
नरपत का खाता खुला
मैं तहसील के नजदीक बैंक ऑफ इंडिया के पास खड़ा हूं। बैंक वाले मेरा खाता नहीं खोल रहे। फोन इन कार्यक्रम में यह फोन बुधनी से श्री नरपत ने किया। फोन कलेक्टर श्री राघवेन्द्र कुमार सिंह ने रिसीव किया। फोन कर्ता से उसकी पहचान पूछी और सीधे एस.डी.एम. को मोबाइल पर निर्देश जारी किए कि लाल चैक की शर्ट पहने नरपत नाम के सज्जन बैंक ऑफ इंडिया के नजदीक खड़े हैं उनका बैंक में तुरंत खाता खुलवाया जाय और मुझे सूचित किया जाय। करीब दस मिनिट के अरसे में एस.डी.एम. बुधनी श्री बुध्देश कुमार वैद्य का काल बैक होता है '' सर, नरपत का खाता खुलवा दिया गया है''।
कीचड़ से मिली निजात
यह फोन इन का असर है कि भाऊखेड़ी निवासी अब कीचड़ के बजाय सीमेन्ट कांक्रीट रोड पर चलेंगे। पिछले फोन इन में निपानिया कलां से श्री राजेश बनासिया ने फोन इन में बताया था कि उनके मोहल्ले में सड़क के नाम पर कीचड़ भरा रास्ता है। सड़क बनवा दी जाय। फोन को पूरी गंभीरता से सुनते हुए कलेक्टर श्री सिंह द्वारा सड़क बनाना सुनिश्चित किया गया और आज मंगलवार 22 जनवरी के फोन इन में श्री बनासिया ने बताया कि सीमेन्ट कांक्रीट रोड बन गया है।
जागरूकता के लिए दिया धन्यवाद
निपानिया से श्री शिवराज सिंह वर्मा ने बताया कि यहां विद्युत लाइन के तार बदले जा रहे हैं। फोन कर्ता की बात फोन इन में मौजूद विद्युत मण्डल के सहायक यंत्री श्री सुभाष दवे से कराई गई। अनेक टैक्नीकल मुद्दों पर बातचीत हुई। फोन कर्ता की जागरूकता और टैक्नीकल जानकारी के लिए कलेक्टर श्री सिंह ने फोन कर्ता को धन्यवाद दिया वहीं श्री दवे को निर्देश दिए कि वे स्वयं मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लें।
अतिक्रमणकर्ता को मिला नोटिस
आष्टा से एक फोन कर्ता ने अतिक्रमण के मामले में बताया कि उसके द्वारा दूसरी बार फोन किया जा रहा है। कार्यक्रम प्रभारी डिप्टी कलेक्टर श्रीमती शीला देशपांडे ने फोन कर्ता को बताया कि उनके पहले फोन से ही कार्यवाही शुरू कर दी गई थी और अतिक्रमणकारी को तहसीलदार द्वारा नोटिस तलब करा दिया गया है। मामले में जांच होते ही अतिक्रमण पाए जाने पर उसे तत्काल हटा दिया जायगा।
फूलकुंअर बाई को न्याय मिलेगा
श्रीमती फूलकुंअर बाई ने फोन पर कलेक्टर को बताया कि मेरी ससुराल इछावर में है और मेरे ससुर श्री मांगीलाल भंवर जी मेरे हिस्से की जमीन बेच रहे है। उन्होने बताया कि पति की मृत्यु हो चुकी है और मेरी पांच पुत्रियां है। कलेक्टर श्री सिंह ने एस.डी.एम.इछावर श्री तूफान सिंह अहिरवार को मोबाइल पर निर्देश दिए कि वे श्रीमती फूलकुंअर बाई की हरसंभव मदद कर उन्हें शीध्र न्याय दिलाएं।  
जन समस्याओं का निराकरण
फोन इन में सीहोर स्थित गुलजारी का बगीचा से रचना राय, गंगा आश्रम से श्री दीपक बेलानी तथा बिजलीघर ग्राउंड से श्री गोविन्द शर्मा ने पेयजल, नाली से पानी बहने और गंदगी होने की फोन पर कलेक्टर श्री सिंह को शिकायत किये जाने पर कलेक्टर श्री सिंह ने सीएमओ नगरपालिका सीहोर श्री धीरेन्द्र श्रीवास्तव को शिकायतों का त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिए।
लिए गए निर्णयों पर कार्यवाही हो - श्री रूस्तम सिंह

सीहोर : 23 जनवरी, 08

प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री तथा सीहोर जिला प्रभारी मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने कहा कि बैठक में की जाने वाली चर्चा अह्म होती है जिसे पूरी तबज्जो दी जाय। बैठक में लिए गए निर्णयों पर गंभीरता के साथ अमल किया जाय। श्री रूस्तम सिंह आज जिला योजना समिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, जल संसाधन, विद्युत आदि विभागों द्वारा संचालित योजनाओं की प्रगति की विस्तृत रूप से समीक्षा की गई।  बैठक में म.प्र.वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरूप्रसाद शर्मा, विधायक श्री रमेश सक्सेना, पूर्व विधायक श्री मदनलाल त्यागी सहित अन्य समिति सदस्य मौजूद थे।
बैठक में जिला प्रभारी मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने अधिकारियों से कहा कि वे सरकार की योजनाओं का लाभ जरूरत मंद लोगों को दिलाने के लिए मुस्तैदी से कार्य करें। उन्होंने इस बैठक को महत्वपूर्ण बताते हुए जिला योजना समिति के सदस्यों द्वारा दिए गए उपयोगी सुझावों पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा उपरांत लिए गए निर्णयों पर अमल हो यह सुनिश्चित किया जाय। श्री सिंह ने कहा कि इस बैठक में हुई चर्चा और निर्णयों की अगली बैठक में समीक्षा की जायगी।
गलत कार्ड धारकों के खिलाफ कार्यवाही होगी
सीहोर जिला प्रभारी मंत्री श्री रूस्तमसिंह ने बैठक में शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा के दौरान कहा कि गरीबी की रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले पात्र व्यक्तियों को ही बीपीएल कार्ड का लाभ मिले यह सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि जो गलत पाए जांएगे उनके खिलाफ कार्यवाही होगी।
कलेक्टर श्री राघवेन्द्र कुमार सिंह ने बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे बैठक में लिए गए निर्णयों पर गंभीरता के साथ कार्यवाही सुनिश्चित करें और प्रभारी मंत्री द्वारा दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन करें।
बैठक में ग्रामीण विकास योजना की प्रगति से अवगत कराते हुए जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अरूण कुमार तोमर ने बताया कि आगामी एक अप्रेल,08 से क्रियान्वित होने वाली राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए प्रारंभिक तैयारी पूर्णता की ओर हैं। योजनांतर्गत जॉब कार्ड बनाने और फोटो चस्पा करने का कार्य युध्द स्तर पर किया जा रहा है और योजना का जिले में पूरी संजीदगी से क्रियान्वयन सुनिश्चित किया गया है। श्री तोमर ने मुख्य मंत्री आवास योजना, स्वर्ण जयंती ग्राम स्व-रोजगार योजना, मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम सहित ग्रामीण विकास योजनाओं की अद्यतन स्थिति से अवगत कराया।
जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री आर.एस.भदौरिया ने बैठक में विभागीय योजनाओं की प्रगति से अवगत कराते हुए बताया कि 22 करोड़ लागत की 9 योजनाएं मंजूर की गई हैं जिनमें 4 योजनाएं जून,08 तक पूरी हो जायगी। बैठक में कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री पी.सी.पंचरत्न ने जिले में पेयजल हेतु किए जा रहे विभागीय कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में कुल साढ़े छ: हजार हैण्डपंप हैं जिनमें से 280 हैण्डपंप जल स्तर नीचे चले जाने से बंद हो चुके हैं। विभाग द्वारा यह प्रयास किए जा रहे हैं कि किसी भी नागरिक को पेयजल की असुविधा नहीं हो। बैठक में म.प्र.मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कं.लिमि.की ओर से जानकारी में बताया गया कि जिले में पांच नवीन विद्युत स्टेशन मंजूर किए गए हैं और 7 करोड़ 34 लाख की कार्य योजना में 34 कार्यो को शामिल किया गया है।

विकास प्रदर्शनी का शुभारंभ

सीहोर : 23 जनवरी, 08

प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री तथा सीहोर जिला प्रभारी मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने आज सरकार की चार वर्षों की उपलब्धियों पर आधारित विकास प्रदर्शनी का फीता काटकर शुभारंभ किया। जन सम्पर्क विभाग द्वारा अग्रवाल पंचायती भवन में लगाई गई विकास प्रदर्शनी का प्रभारी मंत्री ने अवलोकन किया और इसकी सराहना की। इस अवसर पर म.प्र.वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरूप्रसाद शर्मा, विधायक          श्री रमेश सक्सेना, पूर्व विधायक श्री मदनलाल त्यागी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, कलेक्टर श्री राघवेन्द्र कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक डॉ. राजेन्द्र प्रसाद, जिला पंचायत के सीईओ श्री अरूण कुमार तोमर, वन मंडलाधिकारी श्री चरणजीत सिंह मान सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

दो शब्द

जिला प्रभारी मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने विकास प्रदर्शनी का अवलोकन कर इस प्रयास की सराहना की। उन्होंने विजिटर्स रजिस्टर में लिखा कि ''सीहोर जिले की विकास यात्रा व जन हितैषी शासन की कार्य योजनाओं का क्रियान्वयन प्रदर्शन के माध्यम से प्रदर्शित करने का अच्छा प्रयास है। इसको इस रूप में पहुंचाने व संकलन करने वालों को धन्यवाद एवं शुभकामनाएं।''
म.प्र.वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरूप्रसाद शर्मा ने रजिस्टर में अपना अभिमत व्यक्त करते हुए लिखा कि '' सीहोर जिले की विकास यात्रा की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। जिले के विकास को जिस अनोखे अंदाज में उकेरा गया है अत्यन्त सराहनीय है। अभिनव प्रयास के लिए बधाई।''
विधायक श्री रमेश सक्सेना ने मध्यप्रदेश सरकार के कार्यों से आम जनता को अवगत कराने के लिए जनसम्पर्क विभाग द्वारा आयोजित इस विकास प्रदर्शनी को सराहा। उन्होंने कहा कि मुख्य मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अगुवाई में सरकार ने विगत चार वर्षों में ऐसे कार्य किए हैं जिनकी कभी कल्पना भी नहीं की गई।
पूर्व विधायक श्री मदनलाल त्यागी ने विकास प्रदर्शनी पर अपना अभिमत व्यक्त करते हुए रजिस्टर में कुछ इस तरह लिखा '' सीहोर जिले के साथ पूरे प्रदेश में चलाई जा रही योजनाओं को लेकर लगाई प्रदर्शनी काफी सराहनीय हैं।''
प्रदर्शनी 26 जनवरी तक रहेगी

सीहोर के बड़ा बाजार में स्थित अग्रवाल पंचायती भवन में लगाई गई विकास प्रदर्शनी 26 जनवरी,08 तक दोपहर 12.00 बजे से रात्रि 8.00 बजे तक आम जनता के अवलोकन हेतु खुली रहेगी। प्रदर्शनी में मुख्य मंत्री कन्यादान योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क, मुख्यमंत्री आवास योजना, स्वामी विवेकानंद समूह बीमा योजना, मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम सहित सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं और विकास कार्यों के रंगीन छायाचित्रों को बेहद सलीके से प्रदर्शित किया गया है। प्रदर्शनी में सरकार के 24 माह के 48 कदमों का उल्लेख करते हुए आम लोगों की जानकारी के लिए प्रदर्शित किया गया है।   

1 comment:

महेंद्र मिश्रा said...

बहुत बढ़िया यदि ऐसी सुविधा मध्यप्रदेश मे सभी जगहों मे लागू कर दी जावे तो लोगो की समस्यायों का त्वरित निराकरण हो सकता है | अच्छी जानकारी के लिए आभार